maa lakshmi mantra

Maa Lakshmi Mantra: शुक्रवार को करें मां लक्ष्मी के इन मंत्रों का जाप, घर में कभी नहीं होगी पैसों की कमी

भारतीय संस्कृति और धार्मिक परंपराओं में मां लक्ष्मी को धन और समृद्धि की देवी माना जाता है। हिंदू धर्म में मां लक्ष्मी की पूजा विशेष महत्व रखती है, खासकर शुक्रवार के दिन। ऐसा माना जाता है कि यदि इस दिन मां लक्ष्मी के मंत्रों का जाप किया जाए तो घर में कभी भी धन की कमी नहीं होती। इस लेख में हम विस्तार से जानेंगे कि मां लक्ष्मी के कौन-कौन से मंत्र प्रभावशाली हैं, इन्हें कैसे और कब जपना चाहिए, और इनसे क्या लाभ प्राप्त होते हैं।

maa lakshmi mantra

Maa Lakshmi Mantra:

मां लक्ष्मी का महत्व:- मां लक्ष्मी (Maa Lakshmi Mantra) को भगवान विष्णु की पत्नी और संपत्ति, सौंदर्य, शांति और समृद्धि की देवी माना जाता है। उनके नाम “लक्ष्मी” का अर्थ है ‘लक्ष्य’ या ‘लक्ष्य को पाने वाली’, जो हमें जीवन में समृद्धि और सफलता की ओर प्रेरित करती है। पौराणिक कथाओं के अनुसार, लक्ष्मी समुद्र मंथन के दौरान प्रकट हुईं और उन्होंने भगवान विष्णु को पति के रूप में चुना। मां लक्ष्मी की पूजा से जीवन में सुख, शांति और संपन्नता आती है।

मां लक्ष्मी के प्रमुख मंत्र:- मां लक्ष्मी (Maa Lakshmi Mantra) की कृपा प्राप्त करने के लिए कई मंत्र प्रचलित हैं। यहां हम कुछ प्रमुख मंत्रों का उल्लेख करेंगे जिन्हें शुक्रवार के दिन जपने से विशेष लाभ मिलता है।

1. ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं ॐ महालक्ष्म्यै नम:

इस मंत्र का विशेष महत्व है और इसे मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए सबसे प्रभावशाली माना जाता है। इस मंत्र का नियमित जाप करने से धन और समृद्धि की प्राप्ति होती है। इस मंत्र को शुक्रवार के दिन 108 बार जपने से विशेष लाभ मिलता है।

2. ॐ ह्रीं श्रीं लक्ष्मीभयो नमः:

यह मंत्र साधक को आर्थिक स्थिरता और संपन्नता प्रदान करता है। इसका जाप विशेष रूप से शुक्रवार को करने से घर में सुख-शांति बनी रहती है और धन-धान्य की कभी कमी नहीं होती।

3. ॐ श्रीं महालक्ष्म्यै नमः:

यह मंत्र मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त करने का सबसे सरल और प्रभावी उपाय है। इस मंत्र का जाप शुक्रवार के दिन 108 बार करने से आर्थिक समस्याएं दूर होती हैं और जीवन में समृद्धि आती है।

4. ॐ ह्रीं क्लीं महालक्ष्म्यै नमः:

यह एक और महत्वपूर्ण मंत्र है जो धन की प्राप्ति और आर्थिक समृद्धि के लिए जपा जाता है। शुक्रवार के दिन इस मंत्र का जाप करने से जीवन में आर्थिक स्थिरता आती है।

Maa Lakshmi Mantra

 

मंत्र जाप की विधि:- मंत्र जाप की प्रक्रिया को सही तरीके से करने से ही इसके पूर्ण लाभ मिल सकते हैं। आइए जानते हैं कि मां लक्ष्मी के मंत्रों का जाप कैसे करें:

1. स्वच्छता: –  मंत्र जाप करने से पहले स्नान करके स्वच्छ वस्त्र धारण करें। पूजा स्थल को साफ-सुथरा रखें। स्वच्छता न केवल शारीरिक होती है, बल्कि मानसिक स्वच्छता भी आवश्यक है। मानसिक स्वच्छता का अर्थ है कि मन में किसी प्रकार की नकारात्मकता या अशुद्ध विचार न हों।

2. ध्यान: –  मां लक्ष्मी की मूर्ति या चित्र के सामने बैठकर ध्यान करें। आंखें बंद करके मां लक्ष्मी का स्मरण करें और उनकी दिव्यता का अनुभव करें। ध्यान के दौरान, आप अपनी मनोवांछित इच्छाओं और लक्ष्यों को ध्यान में रख सकते हैं।

3. दीपक जलाएं: –  घी का दीपक जलाएं और सुगंधित धूप-अगरबत्ती का उपयोग करें। दीपक और धूप-अगरबत्ती का महत्व है कि वे वातावरण को पवित्र और सकारात्मक ऊर्जा से भर देते हैं। यह भी माना जाता है कि दीपक की ज्योति मां लक्ष्मी को प्रिय है।

4. मंत्र जाप: – मन को एकाग्र करके उपरोक्त मंत्रों में से किसी एक मंत्र का जाप करें। जाप की संख्या 108 रखी जा सकती है। जाप माला का उपयोग कर सकते हैं, जिससे जाप की गिनती सही रहेगी और एकाग्रता बनी रहेगी।

5. प्रसाद: – अंत में मां लक्ष्मी को नैवेद्य (प्रसाद) अर्पित करें और उसे परिवार के सभी सदस्यों में बांटें। प्रसाद के रूप में मिठाई, फल या सूखे मेवे चढ़ा सकते हैं। प्रसाद बांटने से परिवार के सभी सदस्यों में सकारात्मक ऊर्जा और सुख-शांति का संचार होता है।

Maa Lakshmi Mantra:

मां लक्ष्मी मंत्र जाप के लाभ:  मां लक्ष्मी के मंत्र जाप करने के अनेक लाभ हैं। आइए जानें कुछ प्रमुख लाभों के बारे में:

1. धन की प्राप्ति: – नियमित मंत्र जाप से घर में धन-धान्य की वृद्धि होती है। मां लक्ष्मी की कृपा से व्यापार में लाभ होता है और आय के स्रोत बढ़ते हैं।

2. आर्थिक समस्याओं से मुक्ति: – जिनके जीवन में आर्थिक कठिनाइयां चल रही हैं, उन्हें इन मंत्रों का जाप करने से राहत मिलती है। आर्थिक परेशानियों से मुक्ति मिलती है और भविष्य में वित्तीय स्थिरता प्राप्त होती है।

3. समृद्धि और सुख-शांति: –  मां लक्ष्मी के मंत्रों का जाप करने से घर में समृद्धि, सुख-शांति और आनंद का वास होता है। घर का वातावरण सकारात्मक और ऊर्जा से भरपूर होता है।

4. करियर और व्यवसाय में उन्नति: – मां लक्ष्मी की कृपा से करियर और व्यवसाय में उन्नति होती है। नौकरी में प्रमोशन और व्यवसाय में विस्तार होता है।

5. ऋण से मुक्ति: –  मंत्र जाप करने से कर्ज और ऋण से मुक्ति मिलती है। वित्तीय संकटों से छुटकारा पाने में मदद मिलती है और भविष्य में आर्थिक स्थिरता बनी रहती है।

विशेष उपाय और टिप्स

मंत्र जाप के साथ-साथ कुछ अन्य उपाय और टिप्स भी हैं जिन्हें अपनाकर मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त की जा सकती है:

1. स्वच्छता का ध्यान रखें:- घर और विशेषकर पूजा स्थल की साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। मां लक्ष्मी को स्वच्छता प्रिय है और स्वच्छ वातावरण में ही वे वास करती हैं।

2. दीपावली पर विशेष पूजा:- दीपावली का त्योहार मां लक्ष्मी का विशेष दिन माना जाता है। इस दिन विशेष पूजा और हवन करें। दीपावली की रात को घर के हर कोने में दीपक जलाएं।

3. शुक्रवार को व्रत:-  शुक्रवार को व्रत रखने से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है। इस दिन विशेष रूप से मां लक्ष्मी की पूजा और मंत्र जाप करें।

4. दान और पुण्य:- समाज के गरीब और जरूरतमंद लोगों की सहायता करें। दान और पुण्य करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और घर में धन-धान्य की वृद्धि होती है।

5. वास्तु दोष निवारण:- घर में वास्तु दोष होने पर मां लक्ष्मी की कृपा नहीं मिलती। इसलिए, घर का वास्तु सही रखें और नियमित रूप से घर में धूप-अगरबत्ती जलाएं।

Maa Lakshmi Mantra:

मां लक्ष्मी(Maa Lakshmi Mantra) की पूजा और मंत्र जाप भारतीय धार्मिक परंपराओं का अहम हिस्सा है। विशेषकर शुक्रवार को इन मंत्रों का जाप करने से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है, जिससे जीवन में कभी भी धन की कमी नहीं होती। इन मंत्रों को श्रद्धा और विश्वास के साथ जपने से न केवल आर्थिक समस्याएं दूर होती हैं, बल्कि जीवन में सुख-शांति और समृद्धि भी बनी रहती है। अतः, प्रत्येक शुक्रवार को मां लक्ष्मी के इन मंत्रों का जाप अवश्य करें और उनके दिव्य आशीर्वाद का अनुभव करें। मां लक्ष्मी की कृपा से आपका जीवन सुख, शांति और समृद्धि से भर जाए।

इस लेख में बताए गए मंत्र और उपायों का पालन करके आप अपने जीवन में धन, समृद्धि और सुख-शांति ला सकते हैं। मां लक्ष्मी की कृपा से आपका जीवन सुखमय और संपन्न हो, यही हमारी शुभकामनाएं हैं।

JAYA KISHORI – jaya kishori biography

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top